ये रही 29 CM की लिस्ट: कौन है सबसे अमीर, गरीब और डॉन

ये रही 29 CM की लिस्ट: कौन है सबसे अमीर, गरीब और डॉन

नई दिल्ली: देश के 29 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपनी संपत्ति का ब्यौरा चुनावी हलफ़नामे में दिया है. यह हलफ़नामा बताता है कि कौन CM कितना अमीरचंद है और कौन कितना गरीबचंद है. इस लिस्ट में टॉप पर आंध्र प्रदेश के सीएमचंद्रबाबू नायडू सबसे अमीर मुख्यमंत्री हैं. वहीँ दूसरे नंबर पर अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू और तीसरे नंबर पर पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह है. चलिए इनकी संपत्ति के बारे में विस्तार से जानते है….

 

फ़िलहाल चंद्रबाबू नायडू के पास 177 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है, जबकि पेमा खांडू के पास 129 करोड़ और अमरिंदर सिंह के पास 48 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी है. आपको बता दे कि भारत के 29 राज्यों के सीएम द्वारा चुनावी हलफनामें में दिए गए संपत्ति के ब्यौरे के अनुसार ये आंकड़े सामने आए हैं. ये तो अमीर मुख्यमंत्रियों की संपत्ति का ब्यौरा था. अब हम आपको हिदुस्तान के सबसे गरीब मुख्यमंत्रियों की संपत्ति के बारे में बताते है.

ये रही 29 CM की लिस्ट: कौन है सबसे अमीर, गरीब और डॉन

त्रिपुरा स्टेट जितना छोटा है उतनी ही कम इस राज्य के CM की संपत्ति है. जी हाँ, वामपंथी सरकार के मुखिया माणिक सरकार के पास 29 मुख्यमंत्रियों की लिस्ट में सबसे कम संपत्ति है. आपको जानकार आश्चर्य होगा कि माणिक सरकार के पास सिर्फ 26 लाख की कुल प्रॉपर्टी है. सबसे अहम् बात उनके पास न तो अपनी कोई कार है और न ही घर है. माणिक सरकार के बाद नाम आता है पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का, जिनके पास सिर्फ 30 लाख की ही कुल संपत्ति है और इसमें कोई अचल संपत्ति नहीं है. सबसे गरीब सीएम में तीसरे पायदान पर जम्मू-कश्मीर की CM महबूबा मुफ्ती हैं. उनके पास महज 55 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है. ये तो बात मुख्यमंत्रियों की संपत्ति की थी और अब किसके ऊपर सबसे ज्यादा केस दर्ज है. चलिए जानते है…….

ये रही 29 CM की लिस्ट: कौन है सबसे अमीर, गरीब और डॉन

मुख्यमंत्रियों पर दर्ज आपराधिक केस की बात आती है तो काफी चौंकानेवाले आंकड़े सामने आते हैं. अपराधों की लिस्ट में टॉप पर है महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस, जिनके ऊपर अभी तक सबसे अधिक 22 केस दर्ज हैं. वहीँ दूसरे नंबर पर केरल की सीपीएम सरकार के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन पर लगभग 11 आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं. भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर दिल्ली के सीएम बनने वाले अरविंद केजरीवाल का स्थान तीसरा है. जिन पर अभी तक 10 केस दर्ज हैं.

 

शिक्षा की बात की जाए तो देश के 39 फीसदी मुख्यमंत्री ग्रैजुएट हैं और 32 फीसदी प्रोफेशनल हैं. वहीँ 16 फीसदी मुख्यमंत्री पोस्ट ग्रैजुएच हैं और सिर्फ 10 फीसदी मुख्यमंत्री ही ऐसे हैं जिन्होंने हाई स्कूल भी पास नहीं किया. कुल मिलाकर देश और राज्यों की सरकार को शिक्षा के ऊपर ज्यादा ध्यान देने की जरुरत है. इतना ही नहीं, धन की बराबर डिस्ट्रीब्यूशन होना भी बहुत अहम् है.

 

राहुल गांधी ने नाश्ते में पकौड़े खाकर विपक्ष को ऐसे दिया जवाब

हनीट्रैप vs जासूसी: वायुसेना ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह गिरप्तार

यहाँ स्टूडेंट्स ने ली BJP के खिलाफ़ शपथ, विडियो हुआ वायरल

Be the first to comment

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


freaky funtoosh Install Android App