बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में दुसरे स्थान पर रहा भारत

बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में दुसरे स्थान पर रहा भारत

बैंकॉक में 37 देशो के 196 खिलाड़ियों के बीच शतरंज प्रतियोगिता में भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया. बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में भारतीय खिलाड़ियों ने बहुत ही उम्दा परफॉर्म किया है. बैंकॉक मास्टर्स शतरंज कम्पटीशन में वियतनाम के नोवेन्द्र पियसमारो नें 8 अंको के साथ प्रथम स्थान प्राप्त कर खिताब पर कब्ज़ा जमा लिया, वहीँ भारतीय ग्रांड मास्टर दीपन चक्रवर्ती नें 7.5 अंक बनाते हुए इस क्रम में दूसरा स्थान पाया है.

 

भारतीय खिलाड़ी को हर क्षेत्र में सफलता मिलती रही है और देश का प्रतिनिधित्व कर रहे खिलाडी हर टूर्नामेंट में देश का गौरव बढ़ाते आ रहे है. हाल ही में बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में दिग्गजों को पीछे छोड़ते हुए 11 वर्षीय डी गुकेश नें ना सिर्फ तीसरा स्थान प्राप्त किया बल्कि अपना पहला ग्रांड मास्टर नार्म भी हासिल कर लिया है.

 

बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता को देखते हुए ये कहा जा सकता है कि भविष्य में 12 वर्षीय प्रग्गानंधा और 13 वर्षीय निहाल पहले ही ग्रांड मास्टर बनने के बिलकुल नजदीक है ऐसे मे गुकेश का सामने आना भारत के लिए एक और बेहतरीन अवसर है.

 

बता दे कि गुकेश नें शतरंज प्रतियोगिता के अंतिम राउंड में अमेरिकन दिग्गज तिमूर गरेव को ड्रॉ पर रोककर यह उपलब्धि हासिल की है. देखा जाए तो भारत में शतरंज के नामी खिलाड़ियों की फेहरिस्त काफी लम्बी रही है, वहीँ भावी पीढ़ी का ये प्रदर्शन देखकर लगता है कि भारतीय शतरंज का भविष्य बहुत ही सुरक्षित हाथों में है. बैंकॉक मास्टर्स शतरंज प्रतियोगिता में भारतीय खिलाडियों ने जो मैडल हासिल किए है, उनसे आने वाली पीढ़ियों को बहुत होंसला और साहस मिलेगा.

 

CWG 2018 में जीता मैडल, जानिए कौन है गुरुराजा पुजारी

पैसो का बिस्तर लगा कर सोता है यह खिलाडी, एक दिन में उड़ा देता है करोडो रूपये

फुटबॉल क्लब के लिए, इस शख्स ने चुराए पत्नी के पैसे

Be the first to comment

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


freaky funtoosh Install Android App