इन 7 चीजों को न करे भगवान शिव की पूजा में इस्तेमाल

things_not_to_use_in_lord_shiva_worshipthings_not_to_use_in_lord_shiva_worship


भगवान शिव, जिन्हें महाकाल भी कहा जाता है. भगवान शिव के बारे में कहा जाता है कि वह बहुत भोले है. वह जल्दी ही प्रसन्न हो जाते है. जो भी भक्त दिल से उनकी पूजा करते है, उनकी मनोकामना वह पूरी करते है.

भगवान शिव को प्रसन्न करना आसान है, लेकिन कुछ चीजें ऐसी भी है, जिन्हें गलती से भी भगवान शिव की पूजा में शामिल नहीं करना चाहिए, वरना भगवान शिव नाराज़ हो सकते हैं. आइये हम आपको उन चीजो के बारे में बताते है.

1) भगवान शिव की पूजा में शंख का प्रयोग न करे. क्योंकि शंख असुर का प्रतीक माना जाता है.

2) शिवलिंग पर कभी भी तुलसी नहीं चढ़ानी चाहिए. कहा जाता है कि तुलसी का जन्म जलंधर नामक असुर के यहाँ हुआ था, जिसे भगवान विष्णु ने पत्नी के रूप में अपनाया था.

3) शिवलिंग पर कभी-भी तिल न चढ़ाएं. मान्यताओं के अनुसार तिल भगवान विष्णु के मैल से उत्पन्न हुआ था.

4) भगवान शिव की पूजा में कभी भी टूटे हुए चावल का प्रयोग न करे.

5) भगवान शिव की पूजा में कुमकुम का प्रयोग भी नहीं किया जाता है. कुमकुम को सौभाग्य का चिन्ह माना जाता है और भगवान शिव को वैरागी कहा जाता है.

6) भगवान शिव की पूजा में हल्दी का इस्तेमाल भी नहीं करते क्यों कि शास्त्रों में हल्दी का सम्बन्ध भगवान विष्णु से माना गया है.

7) नारियल को देवी लक्ष्मी का प्रतीक माना गया है और देवी लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी हैं, इसलिए नारियल को शिवलिंग पर नहीं चढ़ाते है.

 

जानिए,देवताओं में भगवान सूर्य कैसे देवता है

सूंदर लड़की से करनी है शादी तो यह है जरुरी

इस मंदिर में चढ़ाई जाती है चप्पल की माला

Related Post

Be the first to comment

Leave a comment

Your email address will not be published.


*